Live Tv

11.3°С
Jaipur

Breaking News

अनोखी गुरु दक्षिणा : कलयुग का सुदामा बन सांवरिया मंदिर में दान कर दी 11 बीघा जमीन और चार मंजिला मकान

अनोखी गुरु दक्षिणा : कलयुग का सुदामा बन सांवरिया मंदिर में दान कर दी 11 बीघा जमीन और चार मंजिला मकान

19-Jul-2016 10:30:45;PM

डूंगरपुर। द्वापर युग ने हमने भगवान श्रीकृष्ण व उनकी परममित्र सुदामा के बारे में सुना है, जिनकी मित्रता को आज भी एक मिसाल के रूप में देखा जाता है। द्वापर में भले ही कृष्ण के राजदरबार में पहुंचे सुदामा को उसकी तीन मुट्ठी चांवल की कीमत श्रीकृष्ण ने उसे तीन लोकों का मालिक बनकर चुकाई हो। लेकिन कलयुग में श्रीकृष्ण के ही एक भक्त ने गुरू पूर्णिमा के दिन अपने आराध्य को गुरू मानकर अपनी 11 बीघा जमीन और एक चार मंजिला मकान उनके मंदिर को दान कर दिया।


डूंगरपुर की आसपुर तहसील के खेड़ा सामौर गांव के 45 वर्षीय अमर जी पटेल ने डूंगरपुर से चित्तौड़गढ़ पंहुचकर जिला कलेक्ट्रट में एडीएम से मुलाकात की। पटेल ने एडीएम के समक्ष अपनी 11 बीघा जमीन और चार मंजिला मकान को सांवरिया मंदिर में दान करने की इच्छा जाहिर की। इस पर अतिरिक्त कलेक्टर ने मंदिर प्रशसन को जमीन की जांच एवं दान की प्रक्रिया को सम्पादित करने का निर्देश दिया।


पटेल बचपन से ही चित्तौड़गढ़ जिले की निम्बाहेड़ा तहसील में बसे गांव मंडफिया स्थित सांवरिया सेठ के अनन्य भक्त हैं। उनकी सांवरिया के इस मंदिर के प्रति काफी आस्था रही है। पटेल ने बताया कि उनके पिताजी की 4 साल पहले मृत्यु हुई थी और तब से ही उनकी इच्छा थी कि अपनी 16 बीघा ज़मीन में से 11 बीघा जमीन सांवरियाजी के मंदिर में दान की जाए।


गौरतलब है कि पटेल हर अमावस्या को सांवरिया सेठ के दर्शन करने आते हैं। डूंगरपुर के जिला प्रमुख माधवलाल वरहात भी अमर पटेल से मिले और इतने बड़े दान पर उनका आभार जताया। उन्होंने कहा कि भगवान हमें देता और हम उसी में से कुछ हिस्सा अगर भगवान को देते हैं, तो यह भी हमारा सौभाग्य होता है। उल्लेखनीय है कि सांवरिया के इस मंदिर में दूर—दराज से लाखों की तादाद में श्रद्धालू आते हैं और सांवरिया सेठ मंदिर में दान दाता दिल खोलकर दान करते हैं।

 

Dungarpur Chittorgarh Sanwaliya Ji Sanwariya Seth Mandafia Guru Poornima

Related Stories

News

Poll

क्या पुलिस की ढिलाई के कारण महिलाओं से अपराध बढे हैं?

A Yes
B No

Thought of the day

मूर्खों से तारीफ सुनने से बेहतर है कि आप बुद्धिमान इंसान से डांट सुन ले ~ चाणक्य

Horoscope