Made in indias train medha will running after suresh prabhu flag show

पटरी पर दौड़ेगी 'मेक इन इंडिया' की ट्रेन मेधा, जानिए ट्रेन की खासियत

Published Date-18-Mar-2017 02:33:07 PM,Updated Date-18-Mar-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

शनिवार को मेड-इन-इंडिया पहल की तहत भारत में विकसित और निर्मित की गई पहली ट्रेन का उद्घाटन मुंबई में रेल मंत्री सुरेश प्रभु करेंगे| इस ट्रेन का नाम 'मेधा' रखा गया है| रेल मंत्री इस ट्रेन को मुंबई के चर्चगेट से लगभग 3 बजे के करीब हरी झंडी दिखाएंगे, जो कि लोकमान्य तिलक टर्मिनस से चलेगी| पहली स्वदेशी लोकल शनिवार से वेस्टर्न रेलवे पर दौड़ेगी| आपको बता दें कि मेधा ट्रेन में रिजेनरेटेड ब्रेकिंग सिस्टम का प्रयोग किया गया है जो कि 30 से 35 फीसदी बिजली की बचत कर सकती है।


ट्रेन की खासियत:
इस ट्रेन में 6,050 यात्रियों की क्षमता होगी।
ट्रेन में कुल 1,168 सीट उपलब्ध होगी।
यह ट्रैक पर 110 किमी प्रति घंटा की रफ्तार दौड़ेगी।
ट्रेन में फ्रेश एयर कूलिंग क्षमता 16,000 प्रति घंटा मीटर क्यूबिक है।
रिजेनरेटड ब्रेकिंग सिस्टम युक्त यह रेक 30 से 35 प्रतिशत बिजली परिचालन के दौरान बचा सकती है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महात्वाकांक्षी योजना मेड-इन-इंडिया का सफर एक कदम आगे बढ़ते हुए देश में विकसित और निर्मित की गई ट्रेन तक पहुंच गया है। मेक इन इंडिया के तहत देश की पहली स्वदेशी लोकल ‘मेधा’ हैदराबाद मेधा सर्वो ड्राइव्स फर्म द्वारा प्रायोजित है और चेन्नई कोच फैक्ट्री में निर्मित है। यह रेक मुंबई सेंट्रल कार शेड में खड़ी है। वर्तमान में मध्य और पश्चिम रेल पर परिचालित होने वाली लोकल चैन्नई स्थित इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (आईसीएफ) में तैयार होती है। इन लोकल ट्रेनों में इलेक्ट्रिक तकनीकी समेत अन्य तकनीकी संबंधी काम सीमेंस और बॉम्बार्डियर कंपनियों की देख रेख में होता है। ये कंपनियां विदेशी है।


मेधा लोकल के हुए सभी ट्रायल सफल रहे और अब कमिश्नर ऑफ रेल सेफ्टी (सीआरएस) ने भी इस स्वीकृति दे दी है। वेस्टर्न रेलवे पर पिछले 2 वर्षों में कई बदलाव हुए हैं। इसमें बॉम्बार्डियर रेक का सर्विस में शामिल होना भी एक बड़ा बदलाव है। रेलवे अधिकारी के मुताबिक मेड-इन-इंडिया ट्रेन ‘मेधा’ के निर्माण में लगभग 43.23 करोड़ रुपए की लागत आई है। जबकि विदेश से खरीदी जाने वाली बॉम्बार्डियर ट्रेन की कीमत 44.36 करोड़ रुपए है।

 

Make In India, Train, Indian Railway, Medha Train, Mumbai Local, Suresh Prabhu

Click below to see slide

Recommendation