200 Narega workers protest sue to unemployment

200 नरेगा मजदूर बैठे धरने पर, काम नहीं मिलने से है नाराज

Published Date-17-Feb-2017 05:48:27 PM,Updated Date-17-Feb-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

भरतपुर| राजस्थान के भरतपुर में कामां तहसीलदार कार्यालय पर 200 ग्रामीण जो नरेगा मजदूर है और काम नहीं मिलने से परेशान है जिसके चलते नरेगा काम शुरू कराने के लिए वे धरने पर बैठ गए है और काम शुरू कराने की मांग कर रहे है।

 

मामला कामा उपखंड की ग्राम पंचायत बिलंग का है, जहां 15 फरवरी को नरेगा कार्य शुरू होना था, लेकिन सरपंच व कुछ ग्रामीणों में रंजिश के चलते यह काम शुरू नहीं हो सका है, लेकिन काम शुरू नहीं होने से गरीब ग्रामीण मजदूर परेशान है और धरने पर बैठे हुए है| 

 

नरेगा मजदूरों के अनुसार उनके गांव में नरेगा काम शुरू होना था जो कुछ लोगों की अड़चन की वजह से रुका हुआ है जबकि हम गरीब है और काम की तलाश है जिससे अपने परिवारों का पालन पोषण कर सके| तहसीलदार मूलचंद लूणिया ने बताया की मामले की जांच की जा रही है और शीघ्र ही इसका निपटारा कर नरेगा काम शुरू कराया जायेगा।

 

Narega, Protest, Job, Bharatpur, Rajasthan

Click below to see slide

Recommendation