Teen forced to have sex with around 1000 in Philadelphia

हज़ारों लोगों ने नौंचा इस नाबालिक का जिस्म, 2 साल तक बनाकर रखा सेक्स स्लेव

Published Date-15-Mar-2017 11:19:29 AM,Updated Date-15-Mar-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

अमेरिका के चर्चित शहर फिलाडेल्फिया में वेश्यावृत्ति व्यापार, मानव तस्करी बडे पैमाने पर होता है। इस गंदे काम में गिरोह सक्रिय हैं। देह व्यापार में होटल मालिक और उसके स्टाफ की मिलीभगत रहती है। हाल ही फिलाडेल्फिया में 14 वर्ष की एक किशोरी ने एक होटल पर मुकदमा दर्ज कराया है। इस होटल को मानव तस्करी के अड्डे के रूप में जाना जाता है। इस होटल में किराए से कमरे मिलते हैं जहां कम उम्र की लडकियों को लेकर लोग आते हैं। वाशिंगटन पोस्ट की रपट के अनुसार पीडित लडकी के वकील नदीम बेजार ने बताया कि होटल में किशोरी को 2 वर्ष तक बंधक बनाकर रखा गया और इस दौरान 1000 से भी ज्यादा लोगों के साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर किया गया।

 


इस दौरान होटल के मालिक और स्टाफ मानव तस्करों को किराए पर रूम देकर लडकी का शोषण करते रहे। होटल ने लाभ कमाया परन्तु यौन उत्पीडन को रोकने की प्रयास नहीं किया। गत शुक्रवार को फिलाडेल्फिया के कॉमन प्ली कोर्ट में होटल, उसके प्रबंधक और उसकी पेरेंट कंपनी के खिलाफ केस दर्ज किया गया। यह मामला क्लाइन एवं स्पेक्टर फर्म ने पीडित लडकी की और से दर्ज कराया है। वकील बेजार का कहना है कि यह पेनसिल्वेनिया मानव तस्करी कानून 2014 के तहत दर्ज किया गया संभवतया पहला मामला है जिसमें पीडित से प्रत्यक्ष-परोक्ष लाभ कमाने वालों से मुआवजे दिलाने का प्रावधान है। पीडित के वकील ने 50,000 डॉलर के मुआवजे की मांग की है।

 


वकील के अनुसार लडकी ने अपने माता-पिता से किसी मामले पर विवाद हो जाने के बाद घर छोड दिया था। उसके बाद बुरे लोगों के समूह कें संपर्क में आ गई। उसे यौन दासता में धकेल दिया गया। हालांकि लडकी का उत्पीडन करने वालों पर दोषी सिद्ध हो गया है और जेल में हैं। पीडिता के परिवार और वकीलों को उम्मीद है कि इस अपराध के लिए मोटल मालिक जिम्मेदार है। वकील के अनुसार, स्टाफ के सदस्यों को भलीभांति मालूम था कि उनके मोटल में लडकी का यौन उत्पीडन जारी है।

 


दलाल इंटरनेट के जरिये ग्राहकों को लुभाते थे, रेट तय करते थे और वे ग्राहक मोटल की स्वागत डेस्क के सामने से ही गुजरते थे। यहां तक कि मोटल के कर्मचारी ही उन ग्राहकों को लडकी के कमरे तक लेकर जाते थे। फिलहाल लडकी अपने परिजनों के साथ है और इस असहनीय दर्द से उबरने के लिए थेरेपी ले रही है। इस मामले के सामने आने के बाद कई और पीडताओं ने भी अपनी जुबान खोली है। वहीं, होटल मैनेजर यागना पटेल का कहना है कि लडकी के साथ हुई ज्यादती की सूचना नहीं है।

 


Philadelphia, America, 1000 people, Minor girl, Forced to sex, Sex Slave, 2 Years, Hotel

Click below to see slide

Recommendation