थाने पर सुनवाई नही हुई तो बच्चो के साथ केरोसिन की केन लेकर एसपी ऑफिस के बाहर पहुंचा फरियादी 

Published Date 2017/10/24 05:23, Written by- FirstIndia Correspondent

अजमेर| अजमेर में बढ़ रही चोरी और ठगी की वारदातों से लोग परेशान है| वही थानों में पुलिस फरियादों की सुनवाई नही करती तो पीड़ितों का दर्द और बढ़ जाता है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है दरगाह थाने का जहां रहने वाले दिलदार खान ने तीन जनो को 10 लाख रुपये बतौर कर्ज देकर मदद की थी। जिससे संबंधित सभी दस्तावेज उसके पास है। मियाद खत्म होने पर जब वह कर्ज लेने वालों से पैसा मांगने जाता तो उसके साथ मारपीट करते और कोई कर्ज नहीं होने का हवाला देकर उसे भगा देते थे। कर्जा लेने वालों के खिलाफ दिलदार खान कई बार दरगाह थाने भी गया, मगर हर बार उसे बहला फुसला कर चलता कर दिया जाता। जाहिर है पुलिस का यह संदिग्ध रवैया पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठता ही है। 

पुलिस जनता के लिए जनता को न्याय दिलाने में मददगार होती है, लेकिन पुलिस खुद फरियादी के कदम थाने की दहलीज पर ना पड़ने दे तो फिर न्याय की उम्मीद लगभग खत्म हो जाती है। दिलदार को भी पुलिस के रवैये ने ऐसा आहत किया कि उसने मरने की ठान ली। अपने बच्चो की परवरिश के लिए जोड़ा धन दूसरे की मदद के लिए कर्ज के तौर पर दिया, लेकिन लोग अहसान भूल उसका धन ही हजम कर गए। वहीं पुलिस के रवैये ने उसे तोड़ दिया। लिहाजा अपने बच्चो के साथ केरोसिन से भरी केन लेकर दिलदार खान एसपी ऑफिस पहुंचा, जहां वह अपनी मंशा को अंजाम देता उससे पहले उपस्थित पुलिस कर्मियों ने उसे दबोच लिया। 

एसपी राजेन्द्र सिंह के निर्देश पर पुलिस कर्मी उसे दरगाह थाने छोड़कर आए, ताकि परेशान दिलदार खान उन लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवा सके जो उसका दिया पैसा नही लौटा रहे है। इस घटना के बाद पुलिस को जैसे सांप सूंघ गया। कोई भी घटना के बारे में बोलने को तैयार नही है। जाहिर इन दिनों राज्य की मुख्यमंत्री सीएम वसुंधरा राजे कई बार अजमेर का दौरा कर चुकी है। ऐसे में उनके कानों तक घटना ना पहुंचे। लिहाजा पुलिस चाहती भी यही है कि जिले में अपराध में भय और आमजन में विश्वास का माहौल दिखे|

 

 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------