झिंझियांग के आतंकियों को रोकने के लिए चीन कर रहा है मसूद अजहर का इस्तेमाल

FirstIndia Correspondent Published Date 2017/11/06 11:01

जैश-ए-मोहम्मद सरगना मौलाना मसूद अजहर को बचाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय मंच पर खुलेआम समर्थन करने वाले चीन अब कमजोर पड़ता नज़र आ रहा है| चीन का कहना है कि वो ये सब अपने क्षेत्र के जिनजियांग प्रांत में कथित आतंकवाद और अलगाववाद पर काबू पाने के लिए कर रहा है। चीन के मुताबिक अफगानिस्तान-पाकिस्तान सीमा से आतंक की सप्लाई लाइन तोड़ने के लिए आतंकी मसूद का इस्तेमाल कर रहा है।

चीन का कहना है कि जिनजियांग में पिछले दो दशक में इस्लामिक कट्टरवाद आतंकवाद और अलगाववाद का रूप ले चुका है जिसकी जड़ अफगानिस्तान और पाकिस्तान को माना जाता है। हालांकि ये अनुमान लगाया जा रहा है कि चीन ने हमेशा से ही भारत की पीठ पर छुरा घोंपा है और हो सकता है इस बार भी उसकी ये कोई नई साजिश हो| चीन अपने देश से तो आतंकवाद का खात्मा कर दे, पर बाकी देशों में आतंक और भी भयानक रूप ले ले। चीन की कोशिश हमेशा से ही भारत के कामों में अडंगा डालने की होती है और इसलिए अब भारत सरकार को और सतर्कता बरतने की जरूरत है|

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

विजय माल्या के प्रत्यर्पण पर आज आ सकता है बड़ा फैसला

संसद सत्र हंगामेदार रहने के आसार
प्रधानमंत्री कार्यालय के PRO जगदीश ठक्कर का निधन
धौलपुर जेल से कैदी का वीडियो वायरल
मासूम बच्चो की प्रस्तुतियों ने मोहा मन
प्रेरक वक्ता राम चंदानी ने दिए सफलता के मूल मंत्र, जिंदगी वैसी बनाएं जैसी जीना चाहते है
मासूम बच्चो की प्रस्तुतियों ने मोहा मन
थम गई सरिस्का के बाघ ST-4 की साँसे
loading...
">
loading...